जल जीवन हरियाली योजना 2020 : ऑनलाइन आवेदन | Jal Jeevan Hariyali फॉर्म

Jal Jeevan Hariyali Yojana Online | जल जीवन हरियाली योजना ऑनलाइन आवेदन | जल जीवन हरियाली योजना फॉर्म | Jal Jeevan Hariyali Scheme Registration

बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी द्वारा Jal Jeevan Hariyali Yojana का शुभारंभ किया गया है।उनके द्वारा इस योजना का आरंभ राज्य में पेड़ों का रोपण ,पोखरों तथा कुओं के निर्माण के लिए किया गया है। इस योजना के तहत बिहार राज्य में अनेकों पौधों का रोपण किया जाएगा। तथा सिंचाई के लिए पार्किंग के परंपरागत स्रोतों तालाब ,पोखरों तथा कुओं का भी निर्माण किया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा इन तालाबों तथा कुओं की पूरी मरम्मत कराई जाएगी।इस योजना के तहत सरकार द्वारा किसानों को ₹75500 की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। यह सब्सिडी उन्हें आर्थिक सहायता के रूप में तालाबों, पोखरे बनाने तथा खेतों की सिंचाई करने के लिए प्रदान की जाएगी। Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के अंतर्गत वर्षा के पानी को स्टोर करने के लिए चापाकल ,कुआं ,सरकारी भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी।

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। इस योजना के तहत बिहार राज्य के किसानों को सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी।यह सब्सिडी उन्हें प्रदान की जाएगी जो इस योजना के तहत आवेदन करेंगे।तो आज इस आर्टिकल में हम आपको इस योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया भी बताएंगे।क्योंकि इस योजना का लाभ उठाने के लिए इस योजना के तहत आवेदन करना बहुत अनिवार्य है।अगर आप भी Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के बारे में संपूर्ण महत्वपूर्ण जानकारी को प्राप्त करना चाहते हैं। तो हमारे आज के इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

जल जीवन हरियाली योजना 2020 क्या है?

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा सालों को सब्सिडी प्रदान की जाएगी। जिससे वह तलाब बनवा सके और उन्हें सिंचाई से संबंधित किसी भी परेशानी का सामना ना करना पड़े। पिछले 2 वर्षों में मनरेगा के माध्यम से इस योजना के अंतर्गत एक करोड़ पौधे लगाए जा चुके हैं। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत 2022 वर्ष तक 24 हजार 524 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। Jal Jeevan Hariyali Yojana के तहत राज्य के किसानों को अनेकों लाभ प्रदान किए जाएंगे। इस योजना के लिए बिहार कृषि विभाग ने आवेदन को स्वीकार करना आरंभ कर दिया है।राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाने के लिए इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं। वह Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

जल जीवन हरियाली योजना 2020 का उद्देश्य क्या है?

जैसा की आप सभी लोगों को पता ही है हमारे भारत एक कृषि प्रधान देश है। भारत एक ऐसा देश है जहां पर सबसे ज्यादा खेती की जाती है। लेकिन आजकल लोग अपनी तरक्की के लिए इन प्राकृतिक स्रोतों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। इन सभी स्रोतों के सही उपयोग के लिए बिहार सरकार द्वारा Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 का शुभारंभ किया गया। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा किसानों को तालाब ,पोखर बनाने तथा किसी की सच्चाई के लिए सब्सिडी प्रदान की जाएगी। यह सब्सिडी की राशि ₹75500 होगी। यह सब्सिडी उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए दी जाएगी। Jal Jeevan Hariyali Yojana के अंतर्गत पेड़ लगाने के साथ-साथ बारिश के पानी से सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी।जिससे पेड़ों या खेतों को सही वक्त पर पानी मिल सके और उनके अच्छे से रखरखाव हो सके।

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के हाईलाइट

योजना का नामजल जीवन हरियाली योजना
इनके द्वारा शुरू किया गयामुख्यमंत्री नितीश कुमार जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान
उद्देश्यसब्सिडी प्रदान करना
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://dbtagriculture.bihar.gov.in/

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के मुख्य तथ्य

  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत बिहार के किसानों को  सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में ₹75500 की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • यह सब्सिडी उन्हें तलाब , पोखरे बनाने तथा खेती की सिंचाई के लिए प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आहार ,पोखर छोटी ,नदियां, पुराने कुओं को भी सुदृढ़ बनाया जाएगा।
  • Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के अंतर्गत वर्षा के पानी को संभाल कर रखने के लिए चापाकल कुआं, सरकारी भवनों में वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी।
  • इस योजना के अनुसार छोटी नदियों ,नालों और पहाड़ी क्षेत्र में चेक डैम का भी निर्माण किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत प्रदेश में पेड़ से पेड़ लगाने के साथ-साथ ही वर्षा के पानी से सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी।
  • Jal Jeevan Hariyali Yojana  में वर्ष 2022 तक 24 हजार 524 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

Jal Jeevan Hariyali Yojana के अंतर्गत होने वाले कार्य

  • सार्वजनिक जल संचयन संरचनाओं को अतिक्रमण से मुक्त करना।
  • सिंचाई के साधनों जैसे पुराने तालाब, पोखर, आहरों का जीर्णोद्धार करना।
  • सार्वजनिक कुंओं को चिन्हित करना उनका जीर्णोद्धार करना।
  • सार्वजनिक चापाकलों , तालाब, पोखर, आहरों,नलकूपों के किनारे सोख्ता या जल संचयन संरचनाओं का निर्माण करना।
  • नदी ,नालों पर जल संचयन चैक डैम और अन्य जल संचयन संरचनाओं का निर्माण करना।
  • नए जल स्रोतों का निर्माण तथा जिन नदियों में पानी अधिक है उनका पानी कम जल वाले क्षेत्रों तक पहुंचाना।
  • भवनों में वर्षा जल संचयन संरचना बनवाना।
  • पौधशाला एवं सघन वृक्षारोपण।
  • वैकल्पिक फसलों ,टिपकन सिंचाई ,जैविक खेती एवं अन्य तकनीकों का उपयोग।
  • सौर ऊर्जा उपयोग को बढ़ावा देना।
  • जल जीवन हरियाली जागरूकता अभियान।

Mera Pani Meri Virasat Yojana 2020 : Click here

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 की पात्रता

  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक को बिहार का स्थाई निवासी होना आवश्यक है।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को केवल 1 एकड़ भूमि सिंचाई के लिए सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के अंतर्गत किसानों को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया है।
  • किसानों की पहली श्रेणी है व्यक्तिगत तथा दूसरी श्रेणी सामूहिक है।
  • व्यक्तिगत श्रेणी के अंतर्गत वह लोग आते हैं जिनके पास 1 एकड़ तक कृषि योग्य भूमि है तथा वह उस 1 एकड़ भूमि की सिंचाई करना चाहते हैं।
  • तथा सामूहिक श्रेणी के अंतर्गत वह लोग आते हैं जो 5 हेक्टेयर से अधिक रकबे में एक साथ लेना चाहते हैं तथा उन्हें लागत की पूरी सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • भूमि के कागज़ात
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी Jal Jeevan Hariyali Yojana का लाभ उठाने के लिए इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं। वह नीचे दी गई आसान प्रक्रिया को फॉलो करें

  • सबसे पहले आवेदक को कृषि विभाग बिहार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आपके सामने होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपको जल जीवन हरियाली का एक विकल्प मिलेगा।
  • आपको उस विकल्प के नीचे आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के पश्चात आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर अगला पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको किसान का समूह या स्वयं किसान में से एक विकल्प का चयन करना है।
  • इसके पश्चात आप अपनी किसान पंजीकरण संख्या पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने के बाद आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर जल जीवन हरियाली का आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि किसान का नाम ,पिता का नाम ,पंचायत का नाम आदि को दर्ज करना है।
  • इन सभी जानकारियों को दर्ज करने के पश्चात आपको गेट ओटीपी के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपको पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा।
  • इस ओटीपी को आपको आवेदन फॉर्म में दर्ज करना है।
  • इसके पश्चात सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
  • इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जाएगा।

Jal Jeevan Hariyali Yojana आवेदन की स्थिति/प्रिंट करें?

आवेदन की स्थिति को देखने के लिए तथा आवेदन को प्रिंट करने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें:

  • सर्वप्रथम आपको कृषि विभाग बिहार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आपके सामने होम पेज खोलकर आ जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको आवेदन की स्थिति/प्रिंट के सेक्शन के अंतर्गत जल जीवन हरियाली प्रिंट का विकल्प मिलेगा ।
  • आपको इस इस विकल्प पर क्लिक करना है।
  • विकल्प पर क्लिक करने के पश्चात आप की कंप्यूटर स्क्रीन पर अगला पेज खोलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी पंजीकरण संख्या दर्ज करनी है।
  • इसके पश्चात आपको किसान का समूह या स्वयं किसान का चयन करना है।
  • फिर सर्च के बटन पर क्लिक करें।
  • बटन पर क्लिक करने के पश्चात आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर आवेदन की स्थिति खुलकर आ जाएगी।
  • इसके बाद अगर आप चाहे तो आवेदन की स्थिति को प्रिंट कर सकते हैं।

Conclusion

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 का शुभारंभ राज्य के किसानों को सब्सिडी प्रदान करने के लिए किया गया है।इस सब्सिडी की सहायता से वह तालाब बनवा सके और उन्हें सिंचाई में किसी भी परेशानी का सामना ना करना पड़े। उन्हें 75500 रुपए की सब्सिडी आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को अनेकों लाभ प्रदान किए जाएंगे। इस योजना के जरिए पेड़ लगाने की मुहिम काम के साथ-साथ बारिश के पानी के सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी। Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के अंतर्गत वर्षा के पानी को स्टोर करने के लिए चापाकल ,कुआं ,सरकारी भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी। राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 के तहत आवेदन करके इसका लाभ उठाना चाहते हैं। वह Jal Jeevan Hariyali Yojana आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हमने आपको जल जीवन हरियाली योजना 2020 के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की| हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा आज का यह आर्टिकल अवश्य ही पसंद आएगा| यदि आप इस आर्टिकल से संबंधित किसी भी प्रकार का कोई प्रश्न पूछना चाहते  हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी पूछ  सकते हैं| हम अवश्य ही आपके प्रश्नों का उत्तर प्रदान करेंगे| हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद|

Read more :-

यूपी मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना 2019 : Click here

Leave a Reply Cancel reply