Garib kalyan rojgar abhiyan : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान registration

Garib kalyan rojgar abhiyan 2020 | प्रधानमंत्री गरीब रोजगार योजना | garib kalyan rojgar abhiyan registration | गरीब कल्याण रोजगार अभियान | PM garib kalyan rojgar abhiyan

हमारे देश के वित्त मंत्री निर्मला सीताराम जी के द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Garib kalyan rojgar abhiyan) शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश के प्रवासी मजदूरों की मदद करना और उनको रोजगार के अवसर प्रदान करना है। 20 जून को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस अभियान शुरू किया जाएगा। हम इस बात को अच्छी तरीके से जानते हैं कि लॉकडाउन में काफी सारे प्रवासी एक जगह से दूसरी जगह पर चले गए हैं।

तो उनको कोई भी काम नहीं है। ऐसी स्थिति में इस योजना के तहत उन प्रवासी मजदूरों को काम दिया जाएगा ताकि वह अपना भरण-पोषण कर सके। गरीब कल्याण रोजगार अभियान 125 दिनों तक चलेगा जिसमें 6 राज्यों के 116 जिले मिशन मोड में चलाए जाएंगे। इस लेख में हम आपको Garib kalyan rojgar abhiyan अभियान के बारे में बताएंगे। Garib kalyan rojgar abhiyan आवेदन प्रक्रिया और जरूरी बातों को साझा करेंगे।

Garib kalyan rojgar abhiyan : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान registration

Garib kalyan rojgar abhiyan 2020

  • अमन क्षेत्र के प्रवासी और मजदूरों को इस योजना के तहत अधिक लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • 125 दिन के लिए इस योजना के तहत 6 राज्यों के 16 जिलों में अभियान चलाया जाएगा।
  • ज्ञान के तहत कुल 25 योजनाएं 116 जिला तक पहुंचाई जाएंगी।
  • योजना योगी का गरीब कल्याण योजना अभियान द्वारा पहुंचाई जाएंगी।
  • इन 125 दिनों के भीतर है इन सभी योजनाओं को सिचुएशन लेवल पर लेकर जाएंगे।
  • लाभ प्राप्त करने के लिए भारतीयों को देश के प्रवासी मजदूरों को आवेदन करना होगा।
  • 50 हज़ार करोड़ों रुपए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत खर्च किए जाएंगे।
  • 50,000 करोड़ों रुपए का खर्चा राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा।

Garib kalyan rojgar abhiyan का उद्देश्य क्या है

आप सभी इस बात को जानते हैं कि हमारे भारत देश में कोरोनावायरस बना हुआ है और काफी लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं जिसकी वजह से पूरे भारत देश में लॉक डाउन की स्थिति आ गई है और यह रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है लोग डॉन बढ़ते ही जा रहा है उनकी वजह से सबसे ज्यादा असर देश के उन मजदूरों पर पड़ा है जो मजदूरी करके अपना घर चलाते थे और दूसरे राज्यों में रहकर काम किया करते थे।

कोरोनावायरस की इस महामारी में हमें उनको अपने घर लौटना पड़ रहा है मगर लौटने के लिए भी उनके पास पैसे नहीं है और लॉकडाउन की स्थिति में सारी सुविधाएं भी अभी रद्द कर दी गई है जिसकी वजह से प्रवासी मजदूर फस गया है। ना वह काम पर रुक रहा है और ना वह घर पर जा पा रहा है। कुछ लोग तो घर चले गए हैं मगर कुछ लोग अभी भी फंसे हुए हैं।

गरीब कल्याण योजना अभियान का उद्देश्य यही है कि जो भी प्रवासी मजदूर अपने गांव वापस लौट कर आए हैं उन्हें काम देना है। ताकि मैं अपना भरण-पोषण कर सके और उन्हें इस लॉक डाउन की स्थिति में मदद मिल सके। गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत उनकी जीविका को सुधारा जाएगा। और उनकी आर्थिक स्थिति को भी सुधारने की इसमें पूरी कोशिश सरकार करेंगे।

Garib kalyan rojgar abhiyan की नई अपडेट आयी है

20 जून को प्रधानमंत्री जी ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान को शुरू करने के लिए कॉन्फ्रेंस की गई। कांफ्रेंस बैठक के दौरान हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ, बिहार के मुख्यमंत्री माननीय नीतीश कुमार जी, कृषि विभाग के मिनिस्टर नरेंद्र सिंह तोमर, एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उड़ीसा के सीएम प्रताप जैन आदि यह सब वार्तालाप के लिए शामिल हुए।

देश में कोरोनावायरस की वजह से प्रवासी मजदूरों को और श्रमिकों को काफी असुविधा हुई है। उन्हें काफी सारी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। इसीलिए सुविधा का प्रबंधन करने के बंदोबस्त को देखते हुए हमारे देश के प्रधानमंत्री के द्वारा इस कॉन्फ्रेंस में गरीब कल्याण रोजगार Garib kalyan rojgar abhiyan की शुरुआत की गयी है। जो के 20 जून को बिहार में स्थित खड़िया जिले के बेलहर प्रखंड के तेलिहर नामक गांव से की गई है।

pradhanmantri Vaya vandana Yojana 2020

Garib kalyan rojgar abhiyan

कृषि मंत्री जी ने कांफ्रेंस में भाग लेते हुए कहा कि लॉकडौन की जो स्थिति बनी हुई है। और शायद तक बनी रहे जब तक यह बीमारी टल नही जाती। इसी के कारण हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने 17 साल कोरोनावायरस प्रैक्टिस शुरू किया था। जो मजदूरों को गरीबों और किसानों के लिए था। जिनको लॉकडाउन में काफी सारी सुविधाएं हुए हैं उन्होंने अपना भरण-पोषण करने में काफी ज्यादा दिक्कत नहीं है। देश में जितने भी कामगार मजदूर को रोजगार के लिए अन्य जगहों पर रह रहे थे। अब वहां से अपने गांव लौट कर आ गए हैं।

उनका यह कहना है कि अब वह कहीं नहीं जाएंगे और अपने गांव में रहकर ही काम करेंगे। इसीलिए गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Garib kalyan rojgar abhiyan) को शुरू किया है। जिससे साकार उन्हें अपने ही क्षेत्र में अपनी रूचि के अनुसार और हुनर के अनुसार रोजगार प्रदान कर सके। ऐसे करने पर ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार का आयाम शुरू हो सकेगा और ग्रामीण क्षेत्र में भी आर्थिक रूप से वृद्धि होने लग जाएगी। और Garib kalyan rojgar abhiyan के तहत ग्रामीण विभाग भी विकसित होने लगेगा।

Garib kalyan rojgar abhiyan के मुख्य तथ्य

  • इस अभियान का लाभ प्रवासी मजदूर उठा सकते हैं।
  • 125 दिनों में 16 जिलों के 25000 मजदूरों को काम मुहैया कराया जाएगा।
  • ग्रामीण क्षेत्र के प्रवासी मजदूरों को सबसे ज्यादा लाभ पहुंचाया जाएगा।
  • 20 जून को हमारे देश के प्रधानमंत्री जी द्वारा इस अभियान को आरंभ किया जाएगा।
  • 50,000 करोड़ रुपए का बजट केंद्र सरकार द्वारा गरीब कल्याण में रोजगार अभियान में रखा गया है।
  • योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण इलाकों में आजीविका के अवसर को बढ़ाना है।
  • अपने घर को वापस लौट कर आए प्रवासी मजदूर की आर्थिक स्थिति सुधारनी है।
  • सरकारी तंत्र प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए अभियान में मिशन मोड में काम करेंगे।
  • 6 राज्यों के 116 जिलों में 67 लाख प्रवासी मजदूर घर वापस आए हैं।

Garib kalyan rojgar abhiyan में शामिल मंत्रालय/ विभाग

  • दूरसंचार विभाग।
  • कृषि मंत्रालय
  • रेलवे मंत्रालय।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय।
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय।
  • खान मंत्रालय।
  • ग्रामीण विकास मंत्रालय।
  • पंचायती राज मंत्रालय।
  • पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय।
  • पर्यावरण मंत्रालय।
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय।
  • सीमा सड़क विभाग।

Garib kalyan rojgar abhiyan में आवेदन कैसे करें

यदि आप इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि यह योजना भी तक लांच नहीं की गई है 30 जून को देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा इस को लांच किया जाएगा। उसी के बाद ही इस योजना के प्रति आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। जब मैं योजना की प्रक्रिया शुरू होगी हम आपको इस आर्टिका के माध्यम से हम बता देंगे। आवेदन प्रक्रिया शुरू होने के बाद प्रवासी मजदूर लाभ प्राप्त करने के लिए अभियान के तहत आवेदन कर सकते हैं। उसी के साथ साथ रोजगार का अवसर भी प्राप्त कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहे हमारे साथ।

Leave a Comment