नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2020: New Education Policy, नई शिक्षा नीति PDF

National Education Policy 2020 | New Education Policy PDF | नेशनल एजुकेशन पालिसी नई शिक्षा नीति | नेशनल एजुकेशन पॉलिसी क्या है? | Modi Education Policy

जैसा कि हम सभी लोग यह जानते हैं कि हाल ही में मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय में एजुकेशन पॉलिसी
बदलाव करने का सोचा था यह बदलाव शुरू प्रमुख डॉक्टर के कस्तूरीरंगन के अध्यक्षता मी किया गया था आज हम आपको इस लेख के द्वारा National Education Policy 2020 से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां हम आपको इसलिए के माध्यम से दे देंगे इसी के साथ हम आपको नेशनल एजुकेशन पालिसी 2020 पोर्टल के उद्देश्य बताएंगे और नेशनल एजुकेशन पोर्टल 2020 की विशेषताएं भी हम आपको बताने जा रहे हैं हम आपको इसलिए के माध्यम से एजुकेशन पोर्टल में होने वाली सभी प्रकार की बदलावों को बताने जा रहे हैं यदि आप National Education Policy 2020 2020 पोर्टल में संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे लिए कुकू अंत तक जरूर पढ़ें इसमें आपको इसके बारे में सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

National Education Policy 2020

National Education Policy 2020 क्या है?

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के तहत स्कूलों तथा कॉलेजों में होने वालीशिक्षा की नीति तैयार की जाती है भारत सरकार नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2020 का आरंभ भी कर दिया है इसके तहत भारत सरकार ने एजुकेशन पॉलिसी में काफी सारे मुख्य-मुख्य बदलाव भी कर दिए हैं नहीं National Education Policy 2020 के द्वारा भारत को गए क्या वैदिक ज्ञान महाशक्ति बनाना हैमानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय शिक्षा मंत्रालय के नाम से भी जाना जाने लगा है

National Education Policy 2020 के तहत 2030 तक स्कूलों की शिक्षा में हंड्रेड परसेंट ए आर के साथ पूर्व विद्यालय से माध्यमिक विद्यालय तक शिक्षा का समीकरण किया जाने लगा है पहले तो 10+2का पैटर्न फॉलो किया जाता था परंतु अब नई शिक्षा नीति के तहत 5 प्लस 3 प्लस 3 प्लस 4 का पैटर्न फॉलो किया जाएगा यह पैटर्न बिल्कुल अपडेटेड है नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2014 के आम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के घोषणा पत्र में शामिल था।

National Education Policy 2020 नई शिक्षा नीति

नई शिक्षा नीति में शिक्षकों को गुणवत्ता का स्तर और ऊपर उठाने के लिए कई प्रावधान देने होंगे नए-नए स्कूली शिक्षा व्यवस्था में शिक्षक पात्रता परीक्षा की स्वरूप में भी भला होने लगा है अभी तक टीईटी परीक्षा दो हितों में बढ़ती जाती थी परंतु अब स्कूली शिक्षा व्यवस्था का चार हिस्सों में बांटा जाएगा फाउंडेशन प्रिपरेशन मिडल एवं सेकेंडरी। इसी के द्वारा टीईटी का पैटर्न भी सेट किया जा रहा है विशेष शिक्षकों की भर्ती के समय टीईटी या संबंधित सब्जेक्ट्स में एनडीए टेस्ट स्कोर भी चेक किए जा रहे हैं सभी विषयों की शिक्षाएं एक कॉमन एप्टिट्यूड टेस्ट का योगात्मक नेशनल ट्रेडिंग एजेंसी कराई जाएगी।

New National Education Policy 2020

National Education Policy 2020 पर प्रधानमंत्री का देश को संबोधन

  • 7 अगस्त 2020 को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी के द्वारा
  • एजुकेशन पोर्टल पर देश को संबोधित किया गया है
  • आपने संबंध में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी ने National Education Policy 2020 के मुख्य पॉइंट चर्चा में रखा।
  • प्रधानमंत्री जी ने कहा कि नई शिक्षा नीति भारत को एक नया रूप देगी।
  • PM जी ने यह भी बोला कि नई शिक्षा नीति भारत के छात्रों को ग्लोबल सिटीजन बनाएगी
  • और इसी के साथ यह भी बोला कि नई शिक्षा नीति उन्हें अपनी सभ्यता से ही जुड़ा रखेगी।
  • प्रधानमंत्री जी ने नई शिक्षा नीति के द्वारा छात्रों को अपनी पैशन को फॉलो करने का एक अवसर प्रदान किया।
  • प्रधानमंत्रीश्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी ने यह कहा कि छात्रों से किया
  • अपनी इंटरेस्ट एबिलिटी को डिमांड की मैपिंग करनी चाहिए।
  • छात्रों को क्रिटिकल थिंकिंग को डेवलप करना चाहिए
  • प्रधानमंत्री जी द्वारा यह भी कहा जा रहा था कि हम ऐसे युग में प्रवेश करने जा रहे हैं
  • जहां एक इंसान कोई एक प्रोफेसर अपनी पूरी जिंदगी फॉलो नहीं करेगा तो
  • यह नई शिक्षा नीति इस बात को ध्यान में रखते हुए आरंभ की जा रही है।
  • प्रधानमंत्री जी ने यह भी कहा कि एजुकेशन पोर्टल व्हाट थिंक पर फोकस करती थी
  • लेकिन यह नई शिक्षा नीति अब हाउ टू थिंक पर फोकस करने लगी है।
  • इस नई एजुकेशन पोर्टल को इंप्लीमेंट करने के लिए शिक्षा विभाग से
  • जुड़े लोगों का बहुत बड़ा योगदान रहने वाला है
  • टीचर्स ट्रेनिंग पर भी खास ध्यान रखेंगे
  • कक्षा 5 तक क्षेत्रीय भाषा में बढ़ाया जाएगा उसके बाद प्रावधान इस नई शिक्षा नीति में शामिल किया जाएगा।

National Education Policy 2020 अब समग्र शिक्षा में प्री प्राइमरी भी शामिल होगी

भारत देश के शिक्षा मंत्री स्कूल में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के सफलता पूर्वक वाहन करवाने के कार्य में जुटे हुए हैं इसी बिजी है निर्णय भी लिया गया था कि समग्र शिक्षा में आगे ले वर्षों से प्री प्राइमरी को भी जोड़ा जा सकता है यह एक बहुत बड़ी पहल हो रही है कोरोनावायरस चलते स्कूलों में शुरू हुई सभी प्रकार की क्लासेस अभी ऑनलाइन चल रही है शिक्षा मंत्री द्वारा मजबूत बताए जाने का प्रयास किया जा रहा है। सभी राज्य की समग्र शिक्षक के द्वारा प्रस्ताव भेजने का सुझाव भी शिक्षा मंत्री द्वारा दिया है मंगलवार को शिक्षा मंत्री द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक भी बुलाई गई थी जिसमें अध्यक्ष केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशांत जी ने की। इस बैठक में देश के शिक्षा मंत्री के कार्यान्वयन को लेकर चर्चा भी की गई थी।

अभी बदलाव को लेकर कोई भी सहमति नहीं बन पा रहे हैं जल्द देश के मंत्रालय सी बी एस सी एन सी आई आरती और एनसीटीई के तहत एक उच्च स्तरीय बैठक का आयोजन भी किया जाएगा इस बैठक में शिक्षक का अपनी शिक्षा में की जाने वाले बदलाव के बारे में बताएंगे।

Ek Parivar Ek Naukri Yojana 2020

National Education Policy 2020 स्कूल बैग का वज़न तथा होमवर्क कम किया जाएगा

नेशनल Education Policy 2020 द्वारा कई नए फैसले लिए जा रहे हैं जिससे कि शिक्षा को और बेहतर किया जाए इस पॉलिसी के द्वारा 1st क्लास से 10th क्लास तक कि सभी बच्चों को स्कूल बैग का वजन उनके भोजन का 10 परसेंट ही होना आवश्यक रहेगा इससे ज्यादा वजन की बुक किताब में उनके लिए नहीं होनी चाहिए इसी के साथ National Education Policy 2020 पोर्टल के अंतर्गत केरियर बैग बच्चों के लिए बच्चों को चोट लगने का खतरा बढ़ जाता है सभी विद्यालयों में एक डिजिटल वेइंग मशीन रखी जाएगी जिससे कि सभी बच्चों के स्कूल बैग का वजन मॉनिटर हो सकेगा पॉलिसी डॉक्युमेंट में यह भी है कि स्कूल बैग हल्का होना आवश्यक है क्योंकि अब उसमें ऑफ प्रॉपर कंपार्टमेंट्स होना आवश्यक है स्कूल बैग में 2 पद रे एडजेस्टेबल स्ट्राइक्स जो कि बच्चों की कंधे पर फिट हो सके।

National Education Policy 2020 का उद्देश्य

नेशनल Education Policy 2020 द्वारा भारत का यह उद्देश्य है कि भारत में प्रदान की जाने वाली शिक्षा को वैश्विक स्तर पर लाया जाए। जिससे भारत एक वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बन सके National Education Policy 2020 पोर्टल के द्वारा शिक्षा का सार्वभौमीकरण किया जाने लगा है नशा एजुकेशन पोर्टल तथा 2020 में सरकार के द्वारा पुरानी एजुकेशन पॉलिसी में काफी सारे संशोधनभी कराए गए हैं जिससे कि शिक्षा को गुणवत्ता में सुधार जा सके और बच्चे अच्छी शिक्षा भी ग्रहण कर सकें।

National Education Policy 2020 छात्र की वित्तीय सहायता

National Education Policy 2020 के अंतर्गत राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल का विस्तार किया जाने लगा है इस पोर्टल के माध्यम से बच्चों को सभी प्रकार की सहायता दी जाएगी जिससे कि बच्चे पढ़ाई के लिए तो शायद हो सके और प्राइवेट एजुकेशन को भी प्रोत्साहन मिल सके ताकि वह अपने बच्चों को छात्रवृत्ति प्रदान भी कर सकें।

  • आईआईटी बहू विषयक संस्थान बनाए जाएंगे
  • National Education Policy 2020 के तहत आईआरडीटी जैसी इंजीनियरिंग संस्थाएं मानवीय कृत्य छात्रों के लिए दरवाजे खोलने लगी है
  • और आईआईटी बहु विश्वविद्यालय की ओर आगे बढ़ने लगा है।
  • विदेशी छात्रों के लिए अंतरराष्ट्रीय छात्र कार्यालय
  • इसके अंतर्गत सस्ती लागत पर अच्छी शिक्षा प्रदान करने वाले
  • एक 96 स्थल के रूप में भारत को बढ़ावा दे रहा है
  • इस योजना के तहत प्रत्येक इस संस्था में विदेशी छात्र की मेजबानी करने के लिए एक डोनेशन छात्र कार्यरत है।

नेशनल रिसर्च फाउंडेशन की स्थापना

नेशनल रिसर्च फाउंडेशन की संस्थापक नहीं शोध के माध्यम से संस्कृत को सक्षम बनाया है नेशनल रिसर्च फाउंडेशन की स्थापना से भारत में शोधकर्ता को बढ़ावा दिया गया है जिससे नई नई रिसर्च सामने आने लगी है देश की प्रगति में बहुत महत्वपूर्ण साबित हो रही हैं।

NEP के अंतर्गत बोर्ड का महत्व

  • इसके तहत बोर्ड परीक्षा का महत्व बताया गया है
  • जिससे कि बच्चों को के अंतर्गत तनाव में कमी आए बोर्ड की परीक्षा दो भागों में आयोजित की जाएगी
  • जिससे बच्चों को फैशन में एग्जाम देने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • National Education Policy 2020 पाठ्यक्रम
  • National एजुकेशन पॉलिसी के तहत पाठ्यक्रम में कम सही कर दिया गया है
  • केवल इतना ही पाठ्यक्रम रखा जा रहा है जिससे एप इत्यादि से पढ़ाई को बढ़ावा दिया जाएगा।

National Education Policy 2020 के तहत की जाने वाली सुविधाएं

  • विद्यालय को यह भी सुनिश्चित करने को बोल दिया है कि गुणवत्ता ठीक हो जिससे बच्चों को लंचबॉक्स ना लाना पड़े
  • और विद्यालय में पानी की सुविधा भी ठीक तरह से उपलब्ध कराई जाए
  • जिससे कि बच्चों को वाटर बोतल नाना लानी पड़े ना लानी पड़े।
  • इन सुविधाओं को ठीक तरह से चलाएगा इन सुविधाओं को स्कूलों के बेग का साइज कम हो सके।
  • विद्यालय में क्लास का टाइम टेबल भी ऐसा बनाया जाए
  • जिससे कि बच्चों के बैग का वजन कम हुआ स्कूलों में लगाई गई
  • सभी किताबों का वजन उनके ऊपर पब्लिक के द्वारा प्रिंट करा जाए
  • स्कूलों द्वारा किताबों का चयन समय-समय पर बदल बदल कर लगाया जाए।
  • National Education Policy 2020 के तहत बच्चों को होमवर्क पर भी ध्यान देना आवश्यक है
  • इस योजना के अंतर्गत दूसरी कक्षा तक बच्चों को कोई भी होमवर्क नहीं दिया जाएगा
  • क्योंकि वह पहली और दूसरी कक्षा के छात्र बहुत छोटे होते हैं उन्हें इतनी देर तक बैठने की आदत नहीं होती है

National Education Policy 2020 के विशेषताएं

  • मानव संसाधन संबंध मंत्रालय अप शिक्षा मंत्रालय के नाम से भी जाना जाने लगा है।
  • National Education Policy 2020 के तहत शिक्षा का सार्वभौमीकरण किया जा चुका है
  • जिससे मेडिकल और लॉ की पढ़ाई शामिल नहीं की जाएगी ।
  • इसमें टेन प्लस टू के पेटेंट फॉलो की जाएंगी परंतु अब नेशनल एजुकेशन पोर्टल के तहत 5 प्लस 3 प्लस 3 प्लस 4 का पैटर्न फॉलो किया जाएगा
  • जिसमें 12 साल की स्कूल शिक्षा होगी और 3 साल की थी स्कूली शिक्षा
  • छठी कक्षा से व्यवस्था शिक्षा आरंभ कर दी जाएगी।
  • छात्रों को छठी कक्षा से कोडिंग सिखाई जाएगी
  • सभी स्कूल e-digital किए जाएंगे
  • सभी प्रकार की अकाउंटेंट की क्षेत्रीय भाषा में ट्रांसलेट किया जाएगा।
  • वर्चुअल लैब डिवेलप की जाएगा

National Education Policy 2020 की कुछ मुख्य बातें

  • उच्च शिक्षा के लिए उपयुक्त प्रमाणीकरण के साथ कई प्रविष्ठियां और निकास बंदूक भी होंगे।
  • स्नातक कोर्स 3 या 4 साल में हो सकते हैं जिसमें कई सारे एग्जिट ऑप्शन होगा
  • जिसको चित्र सर्टिफिकेशन के साथ होगा जोकि छात्र में 1 साल स्नातक वार्ड में पढ़ाई की है तो उसे सर्टिफिकेट दिया जाएगा
  • 2 साल बाद एडवांस डिप्लोमा दिया जाएगा 3 साल बाद डिग्री दी जाएगी तथा 4 साल बाद रिसर्च के साथ बैचलर डिग्री भी दे दी जाएगी।
  • एकेडमिक बैंक ऑफ क्रेडिट का गठन भी किया जाएगा जिसमें छात्रों को अरिजीत क्या जाएगा डिजिटल अकैडमी क्रेडिट हो विभिन्न उच्च विद्यालय शिक्षा संसाधनों के माध्यम से संग्रहित किया जाएगा
  • और इसे अंतिम डिग्री के लिए स्थानांतरित भी कर दिया जाएगा
  • राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी उच्च शिक्षा संस्थानों के प्रवेश के लिए मान्य प्रवेश परीक्षा भी पर कराई जाएगी
  • 2030 तक हर जिले में कम से कम एक बड़ी बहू विषयक उच्च शिक्षा संस्था का निर्माण कर दिया जाएगा
  • 2040 तक सभी उच्च शिक्षा संस्थान को भविष्य संस्थान बनाने का लक्ष्य तय कर आ गया है
  • भारतीय उच्च शिक्षा आयोग संपूर्ण उच्च शिक्षा के लिए एक मात्र निकाय होगा
  • शिक्षा नीति के अंतर्गत सरकारी तथा प्राइवेट शिक्षा मानव एक समान होंगे तथा दिव्यांग जनों के लिए शिक्षा में अच्छी स्तर पर बदलाव लाया जाएगा।

National Education Policy 2020 नई शिक्षा नीति के लाभ

  • National Education Policy 2020 को लागू करने के लिए जीडीपी का 6 परसेंट हिस्सा होगा।
  • पढ़ाई में संस्था और भारत की आर्मी प्राचीन भाषा में पढ़ाने का विकल्प रखा जाएगा छात्र अलग-अलग तरह की भाषाएं भी पढ़ सकेंगे।
  • बोर्ड परीक्षा में भी बदलाव किया जा सकता है ऐसा हो सकता है कि देश में साल में दो बार छात्रों को परीक्षाएं करवाई जाए
  • पढ़ाई को आसान बनाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर का कमाल भी किया जा सकता है
  • हायर एजुकेशन में एमपी डिग्री को खत्म किया जाना चाहिए
  • छात्रों को 3 भाषा सिखाई जाएंगे जो कि राज्य अपने स्तर पर निर्धारित करेंगे
  • इस नई शिक्षा नीति को लागू करने के बाद कई सारे संस्थान स्थापित किए जाएंगे
  • जिससे कि है पॉलिसी सुचारू रूप से चल सके।
  • देवी National Education Policy 2020 के अंतर्गत बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ उनके कौशल का विशेष ध्यान रखा जाएगा
  • नई शिक्षा नीति के अंतर्गत यदि कोई छात्र को एक कोर्स बीच में छोड़कर दूसरा कोर्स में दाखिला लेना चाहता है
  • तो वह पहले कोर्स से निश्चित समय तक ब्रेक ले सकता है और दूसरा कोर्स ज्वाइन भी कर सकता है

National Education Policy 2020 के चार चरण

नई शिक्षा नीति को मात्र चार चरणों में विभक्त कर दी गई है जो कि यह 5 प्लस 3 प्लस 3 प्लस 4 पर पैटर्न है इस नए पैटर्न में 12 साल की स्कूल शिक्षा होगी तथा 3 साल की प्रिय स्कूली शिक्षा शामिल की जा सकती है न्यूज़ नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के द्वारा प्राइवेट संस्थाओं को फॉलो करना होगा न्यू National Education Policy 2020 के चार चरण कुछ जिस प्रकार है

फाउंडेशन स्टेज

फाउंडेशन स्थिति 3 से 8 साल तक के बच्चों के लिए ही होगा इसमें 3 साल की 3 स्कूली शिक्षा तथा 2 साल की स्कूल शिक्षा का प्रावधान है कक्षा एक से दो शामिल है फाउंडेशन इस देश के तहत भाषा कौशल और शिक्षा का विकास ध्यान केंद्रित किया करेगा।

प्रिप्रेटरी स्टेज

इसके तहत आठवीं से लेकर 11वीं तक के बच्चे आएंगे जिसमें कक्षा 3 से लेकर 5 तक के बच्चे शामिल है इस स्टेज में बच्चों की भाषा और सांख्यिकी शैली में विकास करने का उद्देश्य रखा गया है।

मिडिल स्टेज

मेंटल स्ट्रेस के अंतर्गत कक्षा 6 से 8 तक के बच्चे आएंगे कक्षा 6 से 8 तक के बच्चों को कोडिंग सिखाई जाएगी और उन्हें व्यवसायिक परीक्षण के साथ-साथ भी सिखाई जाएगी।

केंद्रीय स्टेज

इसमें कक्षा 9 से लेकर 12 तक के सभी बच्चे आते हैं जैसे कि पहले साइंस कॉमर्स और आर्ट्स स्ट्रीम के बच्चे होते थे परंतु अब यह खत्म कर दिया जाएगा अब बच्चे अपनी पसंद का सब्जेक्ट ले सकते हैं जैसे कि बच्चा साइंस के साथ कॉमर्स का या फिर आर्ट्स के साथ कॉमर्स लेना चाहता है

नई शिक्षा नीति 2020: स्ट्रीम्स

National Education Policy 2020 के अंतर्गत सभी छात्रों को अब कोई एसडीएम नहीं करनी होगी अब छात्र और टीम के साथ साइंस स्ट्रीम भी पढ़ सकेगा साइंस स्ट्रीम के साथ कॉमर्स टीवी बढ़ सकेगा कॉमर्स के साथ सिंपल सकेगा अर्थात विषय को बढ़ावा दिया जाएगा पाठ्यक्रम के रूप में देखा जाए तो जिसकी योग्यता खेल में नृत्य में शामिल है एनसीईआरटीपाठ्यक्रम को राष्ट्रीय पाठ्यक्रम की रूपरेखा में रखा गया है शारीरिक शिक्षा को पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है वह वोकेशनल तथा एकेडमिक स्ट्रीम को अलग नहीं किया जा सकता जिससे कि छात्रों को दोनों क्षमताओं को विकसित करने का मौका मिले।

B.Ed अब 4 साल का

National Education Policy 2020 के नेतृत्व में बीएड को 4 साल का कर दिया जाएगा 2030 के अंत तक शिक्षा की नीति योग्यता 4 साल का b.ed प्रोग्राम होगा सभी शिक्षण संस्थान धारित मानकों का पालन नहीं करेंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

विदेशी भाषा सिखाई जाने पर भी जोर

माध्यमिक विद्यालय में बच्चों को पसंद की विदेशी भाषा भी सिखाई जाएगी जिसमें फ्रांस जर्मन स्पेनिश चाइनीस जैपनीज आदि लैंग्वेज इज होंगी यह सभी प्रयास भारत के शिक्षा को वैश्विक तौर पर पहचान बनाने का एक प्रयास है।

Conclusion

नेशनल एजुकेशन पालिसी 2020: New Education Policy, नई शिक्षा नीति PDF दोस्तों हमने आपको अपने इस लेख के माध्यम से न्यू National Education Policy 2020 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको प्रदान कर दी है। यह एजुकेशन पॉलिसी सरकार का क्रांतिकारी फैसला है जो कि भविष्य में छात्रों को बहुत लाभदायक साबित होगा। दोस्तों हमें उम्मीद है कि आप National Education Policy 2020 से संबंधित सभी जानकारी समझ चुके हैं। यदि National Education Policy में और अपडेट आएगा तो हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे। आप से निवेदन है कि आप हमारे से जुड़े रहे।

For more info : Click here

Leave a Comment